मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
my name is pratibha,it means inteligence.I believe that one should be hard working.by hard work you can get inteligence and success.

गुरुवार, 9 दिसंबर 2010

शहर अपना शहर

 अपना शहर लखनऊ अब बदल रहा है .मैंने यहीं पर अपना बचपन गुजारा है .तब के लखनऊ और आजके लखनऊ में अंतर होना बहुत बड़ी बात नहीं है,क्यों क़ि ३५ सालों में कोई चीज अगर बदलती है तो वह स्वाभाविक है उसमे कोई अचरज की बात नहीं है.आश्चर्य तो इस बात का है क़ि पिछले ३५ महीनों से भी क्म समय में इस शहर ने अपना रंग बदला है.खुशी की बात ये है क़ि ये परिवर्तन अच्छाई की और है.हम लखनऊ वासी भले ही इस परिवर्तन की तरफ अभी ध्यान नादे पा रहे हों लेकिन बाहर से आने वाला हर आदमी यहाँ की तारीफ करने से खुद को रोक नहीं पाता है. हालाँकि शहर में इस समय क्म चल रहा है और इस कारण लोगों को असुविधा का सामना  करना पड़ रहा है ,लेकिन आशा यही है क़ि बहुत जल्दी क्म समाप्त होते ही एक बदले हुए सुन्दर लखनऊ को हम देख सकेंगे.

2 टिप्‍पणियां:

RAJEEV KUMAR KULSHRESTHA ने कहा…

I really enjoyed reading the posts on your blog.

pratibha mishra wastu specialist 05224006931 ने कहा…

dhanyvad rajeev jee